गणेश Ganesh Aarti Lyrics Hindi – Anuradha Paudwal

गणेश Ganesh Aarti Lyrics Hindi – Anuradha Paudwal

जय हिन्द दोस्तों,

लो जी भक्तो, T-Series Bhakti Sagar पर Anuradha Paudwal का भक्ति गाना गणेश Ganesh Aarti मोजूत है. इस भक्ति संगीत को Anuradha Paudwal ने गाया है, गाने में लिरिक्स Arun Paudwal जी ने दिया है.

Ganesh Ji की  Aarti करने का मुख्य कारण रिद्धि सिद्धि प्राप्त करना होता है………….जैसे की आप सभी को पता है की, गणेश जी को प्रथम पूज्य देवता की उपाधि भी प्राप्त है यानि इनका पूजन सबसे पहले किया जाता है और अनिवार्य है. आपको हर बुधवार को गणेश जी की पूजा करनी चाहिये इससे प्रभू खुश होते है.

Ganesh Aarti Lyrics Hindi में निचे दे रखा है तो आप वहा से लिरिक्स को पढ़े.

गणेश Ganesh Aarti Lyrics In Hindi - Anuradha Paudwal
गणेश Ganesh Aarti Lyrics In Hindi – Anuradha Paudwal

Songs Credits

  • गाना : जय गणेश देवा आरती
  • गीतकार : अनुराधा पौडवाल
  • गायक : अनुराधा पौडवाल
  • संगीतकार : अरुण पौडवाल
  • संगीत लेबल : टी-सीरीज

Ganesh Aarti Lyrics Hindi

अगर आप गणेश जी के आरती के दीवाने है और अगर आपको Ganesh Aarti Lyrics Hindi में चाहिये………… तो हम आपको Lyrics Provide करवा रहे है.

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी
एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी
मस्तक सिंदूर सोहे मूसे की सवारी।
मस्तक सिंदूर सोहे मूसे की सवारी।।

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा
पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा
लड्डुअन का भोग लगे सन्त करें सेवा॥
लड्डुअन का भोग लगे सन्त करें सेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

अँधे को आँख देत कोढ़िन को काया
अँधे को आँख देत कोढ़िन को काया
बाँझन को पुत्र देत निर्धन को माया।
बाँझन को पुत्र देत निर्धन को माया।

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

‘सूर’ श्याम शरण आए सफल कीजे सेवा
‘सूर’ श्याम शरण आए सफल कीजे सेवा
भक्तजन तोरे शरण कृपा राखो देवा
भक्तजन तोरे शरण कृपा राखो देवा

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥

Related Post

Leave a Comment

Share via
Copy link